कोरोना मरीजों के इलाज के लिए स्वास्थ्य सेवा फेल, नहीं मिल रही है दवा - The Task News

बेकाबू कोरोना के बीच अब हालात चिंताजनक हो गए हैं कोटा मेडिकल कॉलेज से लेकर अब बारां, झालावाड़ और बूंदी में भी ऑक्सीजन बेड खत्म हो गए हैं किसी भी नए गंभीर मरीज को भर्ती करने के लिए कोटा संभाग में ऑक्सीजन बेड की अवेलेबिलिटी खत्म हो गई है. हालात बहुत गंभीर हो चुके हैं इसे खुद कोटा मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ चंद्रशेखर सुशील ने बताया है स्थिति इतनी चिंताजनक है कि कोटा मेडिकल कॉलेज में 550 मरीजों को रेमडेसीविर इंजेक्शन लगना है लेकिन सप्लाई सिर्फ और सिर्फ 165 इंजेक्शन की ही आई है और अब स्थिति यह बन रही है कि लोग बिना इलाज के ही दम तोड़ने लगे हैं.