मध्य प्रदेश में 3 हजार जूनियर डॉक्टरों ने सामूहिक इस्तीफा दिया, चार दिन की हड़ताल के बाद सभी डॉक्टरों ने दिया इस्तीफा - The Task News

मध्य प्रदेश में 3 हज़ार जूनियर डॉक्टरों के इस्तीफा देने के बाद स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने की आशंका पैदा हो गई है। जूनियर डॉक्टर पिछले चार दिनों से हड़ताल पर थे. गुरुवार को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने उनकी हड़ताल को अवैध करार दिया था। जूनियर डॉक्टरों को 24 घंटे के अंदर काम पर लौटने का निर्देश भी हाईकोर्ट ने दिया था। इसके कुछ घंटे बाद ही ग्वालियर, इंदौर, भोपाल, जबलपुर और रीवा मेडिकल कॉलेजों के सभी जूनियर डॉक्टरों ने एक साथ इस्तीफा दे दिया। दरअसल जूनियर डॉक्टर सरकार से मुख्य तौर पर स्टाइपेंड बढ़ाने और कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर उन्हें और उनके परिवार के लिए मुफ्त इलाज की मांग कर रहे हैं। मध्य प्रदेश सरकार ने जूनियर डॉक्टरों को हड़ताल जारी रखने पर सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी।