अमेरिका ने चीन को दिया सबसे बड़ा अल्टीमेटम, कोरोना वायरस और चीन कनेक्शन की अमेरिका खुद करेगा जांच - The Task News

दुनिया में तबाही का ज़िम्मेदार 35 लाख से ज्यादा मौतों की वजह बन चुके कोरोना वायरस को जन्म देने वाले चीन की अब सच्चाई सामने आने वाली है. कोरोना कहां से आया, या कहां बनाया गया, अब इस राज़ से पर्दा कुछ ही दिनों में उठने वाला है ।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कोरोना वायरस के पैदा होने की जांच के लिए अपनी खुफिया एजेंसियों को आदेश दे दिए हैं. बाइडेन ने खुफिया एजेंसियों से कहा है कि वो 90 दिन के अंदर वायरस की उत्पत्ति स्थल का पता करके रिपोर्ट दें । बाइडेन ने कहा कि कोरोना किसी संक्रमित पशु से संपर्क में आने से इंसानों में फैला या इसे किसी लैब में बनाया गया, इस सवाल पर किसी निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए अभी पर्याप्त सबूत नहीं है. इस पर और जांच होने की ज़रूरत है. मैंने अब इंटेलिजेंस कम्युनिटी से ऐसी जानकारी इकट्ठा करने और 90 दिनों में मुझे वापस रिपोर्ट करने के लिए कहा है ।

कोरोना के 2020 में सामने आने के बाद से ही चीन की वुहान लैब पर बहुत से सवाल खड़े हुए थे. वुहान लैब से ही इस वायरस के लीक होने की कई थ्योरी सामने आई लेकिन तमाम आशंकाओं के बाद भी चीन झूठ बोलता रहा और ऐसे सभी आरोपों को नकारता रहा, यहां तक कि WHO भी ऐसी कोई भी पर्याप्त जांच करने में विफल रही. बाइडेन से पहले अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप भी कई बार खुले तौर पर चीन को इस महामारी का ज़िम्मेदार बता चुके हैं. अब बाइडेन भी ट्रंप की ही तरह चीन पर आक्रामक रुख अपना चुके हैं. जिसके बाद चीन की मुश्किलें बढ़नी अब तय हैं ।