अर्णब गोस्वामी पर CBI का शिकंजा - The Task News

अर्णब गोस्वामी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. TV की दुनिया में TRP में गड़बड़ी को लेकर अर्णब CBI के घेरे में आ चुके हैं. क्योंकि TRP घोटाले का मामला अब अब CBI के हाथों में चली गई है. उत्तरप्रदेश में इस मामले की शिकायत के बाद इसकी जांच में सीबीआई की एंट्री हुई. रिपब्लिक टीवी सहित तीन चैनलों पर TRP में हेरफेर करने का आरोप लगा है।
CBI ने उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिश पर लखनऊ पुलिस से जांच को अपने हाथ मे लिया. लखनऊ पुलिस ने विज्ञापन कंपनी ‘गोल्डन रैबिट कम्युनिकेशंस’ कंपनी के सीईओ कमल शर्मा की शिकायत के आधार पर एक प्राथमिकी दर्ज की, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने सीबीआई मामले की सिफारिश की जिसके बाद 24 घंटे के अंदर केंद्र सरकार ने सीबीआई जांच की मंजूरी दे दी
जिसके बाद CBI इस मामले को लेकर जांच में जुट गई है और लोगों के घरों में विशेष चैनल चलाने के लिए रिश्वत देने के मामले में अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. जिनमें से दो मराठी चैनल फक्त मराठी और बॉक्स सिनेमा के मालिक हैं, जबकि तीसरे आरोपी को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है।