मध्यप्रदेश के गांवों में कोरोना विस्फोट, संक्रमितों का इलाज बनी चुनौती - The Task News

मध्यप्रदेश के शहरी क्षेत्रों के बाद अब ग्रामीण इलाकों में भी कोरोना संक्रमण फैलता जा रहा है. हालात यहां तक पहुंच गए हैं कि रायसेन जिले के 494 पंचायतों में से 222 पंचायतों में कोरोना संक्रमण दस्तक दे चुका है. वहीं पांच पंचायत ऐसी है जो कोरोना हॉटस्पॉट बन चुकी है. ग्रामीण क्षेत्रों में 1270 कोरोना पॉजिटिव मरीज़ मिल चुके हैं. हर रोज़ 60 से 70 नए मरीज़ मिल रहे हैं. बाड़ी जनपद में आने वाली महेश्वर पंचायत में घर-घर सर्दी, खांसी और बुखार के मरीजों को मिलना शुरु हो गया है. ग्रामीण बतातें हैं कि हमारे यहां प्रशासनिक लापरवाही रही. हर घर में मरीज थे. अप्रैल के महीने में ही गांव में 20 से अधिक मौतें हुई है. जिला पंचायत सीईओ पीसी शर्मा सहित पूरा अमला मैदानी स्तर पर सक्रिय हो गया है. हर ग्राम पंचायत स्तर पर क्वारंटीन सेंटर बनाए गए हैं जहां पर आइसोलेट मरीजों के लिए रूकने और खाने-पीने की व्यवस्था की गई है।