महाराष्ट्र का कोरोना फ्री गांव घाटणे गांव, युवा सरपंच की नीति लाई रंग - The Task News

महाराष्ट्र के सोलापुर के घाटणे गांव ने कोरोना को पूरी तरह मात दे दी है और इसका श्रेय गांव के युवा सरपंच ऋतुराज देखमुख को जाता है. ऋतुराज की कड़ी मेहनत और संकल्प ने गांव को पूरी तरह कोरोना मुक्त बना दिया. महाराष्ट्र के सोलापुर में 1500 लोगों की आबादी वाला घाटणे गांव जो कोरोना काल में एक अनोखी मिसाल पेश कर रहा है. ये गांव अब देश के कोरोना मुक्त गांवों में से एक है और ये गांव के 21 साल के युवा सरपंच की कड़ी मेहनत का नतीजा है. पिछले साल मार्च में जब गांव में कोरोना संक्रमण बढ़ा तो लोग घबराकर खेत-खलिहानों में जा कर रहे थे. तब 21 साल के सरपंच ऋतुराज देशमुख ने गांव को कोरोना मुक्त करने के लिए जी-जान लगा दी और कोरोना को गांव से निकाल दूर किया. ऋतुराज ने आशा वर्कर की मदद से घर-घर जाकर लोगों को कोरोना के प्रति जागरुक किया और सेनिटाइजट, मास्क और साबुन बांटे. गांव के लोगों ने भी ऋतुराज पर भरोसा दिखाते हुए कोरोना नियमों का पालन किया और गांव को कोरोना मुक्त बनाया.