बिहार में कोरोना से हो रही मौत के बाद अब बाजारों में कफन की भी कमी होने लगी है. जिसकी वजह से दुकानदार लोगों से मनमाना पैसा ले रहे है. जिसकी कमी को दूर करने के लिए गया में दर्जनों घर में मजदूर अब कफन बना रहे हैं. यहां प्रतिदिन 200 से 300 बंडल कफन तैयार किया जा रहा है जिसे पटना गया सहित आसपास के कई जिलों में भेजा जा रहा है. मजदूरों का कहना है कि कोरोना काल में कफन की मांग तीन गुणा बढ़ गया है. - The Task News

बिहार में कोरोना से हो रही मौत के बाद अब बाजारों में कफन की भी कमी होने लगी है. जिसकी वजह से दुकानदार लोगों से मनमाना पैसा ले रहे है. जिसकी कमी को दूर करने के लिए गया में दर्जनों घर में मजदूर अब कफन बना रहे हैं. यहां प्रतिदिन 200 से 300 बंडल कफन तैयार किया जा रहा है जिसे पटना गया सहित आसपास के कई जिलों में भेजा जा रहा है. मजदूरों का कहना है कि कोरोना काल में कफन की मांग तीन गुणा बढ़ गया है.