यूपी के सहारनपुर में हैंडपंप उखाड़ने के मामले को दिया जा रहा है हिंदू-मुस्लिम का रंग, लोगों के बीच तनाव का माहौल - The Task News

यूपी के सहारनपुर के बेहट कस्बे में 40 साल पुराने हैंडपंप को उखाड़ने को लेकर दो समुदायों के बीच तनाव फैल गया. जिसके बाद कट्टरपंथियों को महौल खराब करने का मौक मिल गया. सहारनपुर देहात से कांग्रेस विधायक मसूद अख्तर, बेहट चेयरमैन अब्दुल रहमान, SP नेता उमर अली खान और पूर्व मंत्री मसूद अख्तर धरने पर बैठ गए. बेहट से कांग्रेस विधायक नरेश सैनी भी मौके पर पहुंच गए और हैंडपंप उखाड़े जाने को धार्मिक रंग देने पर उतारू हो गए.
कांग्रेस ने प्रशासन पर 40 साल पुराने हैंडपंप को उखाड़कर माहौल खराब कराने का आरोप लगाया है. लेकिन कहानी इसके ठीक उलट है. कांग्रेस नेता और कट्टरपंथियों के वहां पहुंचने और धरने पर बैठने के कारण बेहट में तनाव फैल गया. इससे पहले हैंडपंप का विवाद दो समुदायों के बीच का विवाद बनता पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया. तनाव को देखते हुए भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया. SDM दीप्ति देव ने अपने सुझबूझ से माहौल को संभाला.
SDM की तरफ से हैंडपंप को उसी जगह दोबारा लगाने का आश्वासन के बाद कांग्रेस के दोनों विधायकों ने अपना धरना खत्म किया.