पश्चिम बंगाल के चुनाव के बाद पीएम मोदी के 'मन की बात' - The Task News

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से ‘मन की बात’ की. पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर ने देश को झकझोर दिया है. ये वायरस देश के लोगों के धैर्य और दुख सहने की सीमा की परीक्षा ले रहा है. लेकिन ये समय हौसले से लड़ाई लड़ने का है और इस लड़ाई में केंद्र सरकार मज़बूती से जुटी हुई है. साथ ही राज्य की सरकारें भी अपना दायित्व निभा रही हैं. पीएम मोदी ने इस दौरान मुंबई के डॉक्टर शशांक से बातचीत की, डॉ शशांक ने कहा कि भारत में इलाज के बेस्ट प्रोटोकॉल मौजूद हैं और लोग ठीक हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना के म्यूटेंट से घबराने की जरूरत नहीं है. ये कोरोना जितनी तेजी से फैला रहा है, लोग उतनी तेजी से ठीक भी हो रहे हैं. श्रीनगर के डॉक्टर नाविद से भी पीएम मोदी ने भी बात की. डॉक्टर नविद ने भी कोरोना को लेकर कई अहम जानकारियां साझा कीं पीएम मोदी ने लोगों से सिर्फ विशेषज्ञों की बात मानने और जरूरी उपाय अपनाने की अपील की. पीएम मोदी ने इस दौरान वैक्सीन लगवाने पर भी जोर दिया और लोगों से वैक्सीन से जुड़ी अफवाहों पर ध्यान ना देने का आग्रह किया. पीएम मोदी ने अपने कार्यक्रम में फ्रंटलाइन वर्कर्स की तारीफ की. उन्होंने कहा कि लैब टेक्निशियन और एंबुलेंस ड्राइवर बड़े रिस्क लेकर काम कर रहे हैं. पीएम मोदी ने अपने कार्यक्रम के अंत में महावीर जयंती की शुभकामनाएं दी और सभी से कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील की. पीएम मोदी ने फिर एक बार कहा कि ‘दवाई भी कड़ाई भी’ के मंत्र को कभी नहीं भूलना है, इस आपदा से हम जल्द बाहर आएंगे और हम मिलकर इस जंग को जीतेंगे।