बिहार में 50 से ज्यादा डॉक्टरों की कोरोना की दूसरी लहर में मौत, महज 4 परिवार को मिला मुआवजा - The Task News

बिहार में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. दूसरी लहर इतनी खतरनाक है कि इसकी चपेट में लोगों की जान बचाने वाले बड़े डॉक्टर भी आ रहे हैं और उनकी मौत हो रही है. IMA की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार में कोरोना की वजह से 50 डॉक्टर और पैरा मेडिकल स्टाफ की मौत हो गई है. इसके लिए IMA ने बकायदा सभी मृत डॉक्टरों को श्रद्धांजिल भी दी. विशेषज्ञों का कहना है कि बिहार में इस बार वायरस के खतरनाक स्ट्रेन की वजह से डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ की मौत हो रही है. IMA के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर अजय कुमार कहते हैं कि ऐसा पहली बार हुआ है जब कोरोना मरीजों की इलाज कर रहे 25-26 साल को डॉक्टरों की मौत हो गई. जबकि मरीजों का इलाज कर रहे सभी तरह की सावधान बरत रहे थे लेकिन फिर भी खतरनाक वायरस की चपेट में आ गए और उनकी मौत हो गई. खबर लिखने तक बिहार में अभी तक 4 हजार 39 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है, जबकि बिहार में अभी भी 64 हजार 698 कोरोना के एक्टिव केस हैं. हालांकि इन सबके बीच अच्छी खबर ये भी है कि बिहार में कोरोना संक्रमितों का रिकवरी रेट 89.65 प्रतिशत हो गया है. लोग अब पहले के मुकाबले ज्यादा तेजी से ठीक हो रहे हैं