सुशील कुमार की क्राइम कुंडली, हर रोज हो रह हैं नए खुलासे - The Task News

सुशील कुमार की क्राइम कुंडली जैसे-जैसे खुल रही है नए-नए खुलासे हो रहे हैं । सुशील कुमार को कुश्ती से शोहरत के साथ-साथ खूब पैसे भी मिले..लेकिन उसे पैसे कम और शोहरत दोनों कम लग रही थी, शायद इसी वजह से शोहरत कमाने के लिए वो कई अपराधियों के साथ जुड़ गया और पैसा कमाने के लिए वो दिल्ली के टोल नाकों का ठेका लेने लगा । इतना ही नहीं सुशील कुमार उन टोक नाकों के लिए आस-पास के गुंडों-बदमाशों की भर्ती करता था
द टास्क न्यूज़ को सूत्रों से जानकारी मिली है कि सुशील कुमार को 3 से 4 साल पहले दिल्ली के कई टोल प्लाजा पर टोल कनेक्शन का ठेका मिला ।

जिन टोल प्लाज़ा के लिए उसे ठेका मिला उनमें अचौंदी बॉर्डर, कुतुबगढ़ टोल, नाहरा टोल और लाड़पुर टोल शामिल थे । इन टोल प्लाजा पर टैक्स कलेक्शन के लिए सुशील कुमार को लोगों की ज़रूरत थी । टोल कलेक्शन के लिए सुशील कुमार ने ऐसे पहलवानों की भर्ती की, जिनके संबंध गैंगस्टर से थे । जिस टोल के नज़दीक जिस बदमाश या गैंगस्टर का दबदबा होता था, उसके करीबी आदमी को सुशील टोल कलेक्शन के लिए भर्ती करता था ।

सुशील कुमार जानता था कि अगर उसे टोल कलेक्शन करना है तो उसे अपराधियों को अपने साथ-साथ रखना होगा । यहीं से सुशील कुमार का अपराधियों के संपर्क में आने का सिलसिला शुरू हुआ ।

THE TASK NEWS को सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक इलाके में अपनी दबंग छवि बनानेके लिए सुशील कुमार गैंगस्टर के साथ उठने बैठने लगा । उनके साथ फ़ोटो खिंचवाने लगा । सुशील कुमार 2017 में ऐसे ही कुख्यात अपराधी के घर शादी समारोह में पहुंचा था ।
उस शादी समारोह में सुशील कुमार किसी VIP से कम नहीं था, शादी समारोह में लगभग हर दूसरे व्यक्ति के पास कोई ना कोई हथियार था । जश्न में डूबे लोग जब तब हवा में फायरिंग कर रहे थे ।

दरअसल सुशील कुमार 2017 में गैंगस्टर काला जठेड़ी के भाई की शादी में पहुंचा था
और ये तस्वीरें बता रही हैं कि काला जठेड़ी गैंग से सुशील कुमार के बहुत करीबी रिश्ते थे ।
गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी एक भगोड़ा है और दिल्ली पुलिस को उसकी तलाश है ।
दिल्ली एनसीआर और आसपास उसके खिलाफ हत्या, लूट और हत्या की कोशिश के कई मुकदमें दर्ज हैं. दिल्ली के मॉडल टाउन में सुशील कुमार की पत्नी के नाम से एक फ्लैट है. उसी फ्लैट में काला जठेडी गैंग के सदस्य छिपते थे. कहा जाता है कि इसी फ्लैट से ये गैंग दिल्ली, यूपी और हरियाणा में टोल टैक्स बूथ को कंट्रोल करता था. इस फ्लैट को सागर पहलवान ने किराये पर ले रखा था । सागर पहलवान का भी काला जठेड़ी गैंग से करीबी रिश्ता था । खबर है कि मॉडल टाउन के फ्लैट को बेचकर सुशील कुमार और काला जठेड़ी में पैसों का बंटवारा होना था, और इसी बात को लेकर दोनों में तनाव बढ़ गया था । काला जठेड़ी से दुश्मनी होने के बाद सुशील कुमार ने जठेड़ी के दुश्मन नीरज बवानिया का हाथ थाम लिया था । काला जठेड़ी की तरह नीरज बवानिया के खिलाफ भी हत्या, हत्या की कोशिश, जबरन वसूली और जमीन कब्जा करने के दर्जनों केस दर्ज हैं

सुशील कुमार की गैंगस्टर के साथ सांठ-गांठ ने सुशील कुमार को भी अपराध के दंगल में धकेल दिया । जिसकी वजह से आज सुशील कुमार जेल की सलाखों के पीछे पहुंच गया है । पुलिस सूत्रों के मुताबिक, सागर की मौत के बाद से सुशील कुमार को अब काला जठेड़ी से जान का डर सता रहा है. सुशील कुमार को लगता है कि काला जठेड़ी गैंग के लोग जेल में उसपर अटैक कर सकते हैं. इसलिए सुशील कुमार काफी डरा सहमा है