कोरोना मरीजों के इलाज के लिए ट्रेन को बनाया गया हॉस्पिटल - The Task News

मुश्किल के इस घड़ी में अब कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए ट्रेनों को भी अस्पताल बनाया जा रहा है. इसके लिए मध्यप्रदेश में कोरोना कोच तैयार किया गया है. भोपाल के अस्पतालों में बेड की कमी दूर करने के लिए पश्चिम मध्य रेलवे ने 320 बेड के आइसोलेशन कोच तैयार किए हैं. 20 स्लीपर कोच को आइसोलेशन कोच में बदला गया है और हर कोच में हल्के  लक्षण वाले 16 कोरोना मरीजों को आइसोलेट किया जाएगा. ताकि गंभीर मरीजों के लिए अस्पतालों में बेड उपलब्ध रहें. भोपाल रेलवे स्टेशन के 6 नंबर प्लेटफॉर्म पर ये आइसोलेशन कोच वाली ट्रेन खड़ी है. वहीं, पीपीई किट पहनकर जीवन रक्षक दल रेलवे प्लेटफार्म पर तैनात है. जब तक आइसोलेशन कोच यहां रहेंगे और इनमे मरीज़ रहेंगे तब तक रेलवे स्टेशन के इस हिस्से को आमके लिए बंद रखा जाएगा. कोरोना मरीजों के लिए यहां नाश्ता, लंच और डिनर के अलावा शाम की चाय भी उपलब्ध रहेगी. ट्रेन में बिजली, पानी के अलावा गर्मी से बचाव के लिए कूलर की व्यवस्था भी की गई है. ट्रेन की खिड़कियों पर कूलर लगाए गए हैं तो वहीं गर्मी में ट्रेन के डिब्बों की छत गर्म ना हो इसके लिए ऊपर बोरियां बिछाई गई हैं, जो लगातार पानी की बौछार से गीली की जाएंगी. इसके अलावा रेलवे के फ्री वाई फाई सुविधा भी यहां मुहैया कराई गई है।